World Meteorological Day 2024 | 23 मार्च को मनाते है दुनिया में मौसम विज्ञान दिवस,जानें कैसे पूर्वानुमान लगाते है वैज्ञानिक

[ad_1]

World Meteorological Day 2024, Weather Forecast

विश्व मौसम विज्ञान दिवस 2024 (सोशल मीडिया)

Loading

नवभारत लाइफस्टाइल डेस्क: दुनिया में हर दिन किसी ना किसी दिन विशेष के रूप में मनाया जाता है ऐसे में पूरी दुनियाभर में हर साल की तरह 23 मार्च को विश्व मौसम विज्ञान दिवस (World Meteorological Day 2024) मनाया जाने वाला है। इस दिन को मनाने उद्देश्य पृथ्वी (Earth) के वायुमंडल की रक्षा में लोगों और उनके व्यवहार की भूमिका के महत्व को बताने के लिए मनाया जाता है।  इसे मनाने की शुरुआत कब हुई और इस साल की थीम क्या है इसके बारे में जानते है।

1950 से हुई दिवस मनाने की पहल

इस विश्व मौसम विज्ञान दिवस को लेकर इतिहास बेहद पुराना है इसके लिए वर्ष 1950 में 23 मार्च को विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) की स्थापना हुई थी उस दौरान यह संगठन एक अंतर सरकारी निकाय था। इसका मुख्यालय स्विट्जरलैंड के जिनेवा में स्थित है। इसे लेकर संगठन की वेबसाइट पर एक नारा दिखाई देता है। इसमें यह दिन ‘राष्ट्रीय मौसम विज्ञान और जल विज्ञान सेवाओं के आवश्यक योगदान’ को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें

2024 में क्या है दिवस की थीम

हर साल दिवस को लेकर अलग-अलग थीम दी जाती है इसमें इस बार की थीम  है The Future of Weather, Climate and Water across Generations। जो कि इससे पहले साल 2023 में  “जनरेशन के साथ मौसम, जलवायु और जल का भविष्य” थी।

जानिए कैसे वैज्ञानिक देते है सटीक जानकारी

इसे लेकर मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा बताते हैं कि, 23 मार्च के दिन मौसम विभाग केंद्र पूरी तरह खुला रहता है इस दिन लोगों को अलग-अलग यंत्रों की प्रदर्शनी लगाकर जानकारी दी जाती है. यंत्रों से क्या अर्थ और परिणाम निकलते हैं यह भी बताया जाता है. सेटेलाइट तस्वीरों के माध्यम से भी लोगों को जानकारी दी जाती है और इसके अलावा रडार के संबंधित सवालों के जवाब मौसम विभाग के द्वारा दिया जाता है।

किसानों को कैसे मिलती है जानकारी

मौसम वैज्ञानिक किसानों को उनकी फसल औऱ बारिश को लेकर जानकारी देते है इसके माध्यम या तो अखबार हो सकते हैं या फिर डिजिटल मीडियम से दी जाती है। इसमें अलग से केंद्र सरकार की योजना से कृषि विश्वविद्यालय औऱ रिसर्च सेंटर खोले गए है। जो मौसम विभाग के साथ मिलकर मौसम की जानकारी और रिपोर्ट देता है। सीजन के हिसाब से मौसम की जानकारी दी जाती है, यहां पर यह बताया जाता है कि, मौसम फसल के लिए कैसा है बुवाई करना चाहिए या नहीं। सावधानियों को भी इसमें शामिल किया जाता है। 



[ad_2]

Leave a Comment